World book day: 23 अप्रैल को मनाया जाता है वर्ल्ड बुक डे, जानें इसके बारे में

World library day 23 April

हर साल यूनेस्को और दूसरी आर्गनाइजेशन 23 अप्रैल को वर्ल्ड बुक डे मनाती हैं। इसे वर्ल्ड बुक डे और कॉपीराइट डे भी कहा जाता है। इसका उद्देश्य किताबों का आनंद लेने और पढ़ने की कला को बढ़ाना है।
यूनेस्को इस दिन को बुक डे मनाने के दिन इसलिए चुना क्योंकि इस दिन विलियम शेक्सपीयर, माइकल सर्वेंट्स का निधन हुआ था।
वर्ल्ड बुक डे इसलिए मनाया जाता है ताकि किताबों का स्कोप बढ़ें जो भूत को भविष्य से जोड़ती हैं और संस्कृति और पीढ़ियों को जोड़ने के लिए एक पुल का काम करती हैं।
पुस्तकें हमारे जीवन को सही दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं और हमेशा हमारे साथ एक सच्चे साथी की तरह रहती हैं, बशर्ते हमारे अंदर पढ़ने और सीखने का जज्बा हो। विश्व पुस्तक दिवस का उद्देश्य लोगों में और खासकर बच्चों में पढ़ने की आदत को बढ़ावा होना चाहिए। साल 2019 के लिए यूएई वर्ल्ड बुक कैपिटल घोषित की गई है। यह दिन उन लोगों के लिए की मंच की तरह है जो साक्षरता को बढ़ावा देना चाहते हैं और सभी की शैक्षणिक संसाधनों के जरिए मदद करना चाहते हैं। इनमें बुक इंडस्ट्री के स्टेकहोल्डर्स, लेखक, पब्लिशर्स, टीचर्स, लाइब्रेरियन, पब्लिक, और प्राइवेट, इंस्टीट्यूट, एनजीओ शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *