M.Tech में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां ,सैलरी की जानकारी

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको M.Tech में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां ,सैलरी की जानकारी से संबंधित सारी जानकारियां आप लोगों के बीच इस पोस्ट के माध्यम से दे रहे हैं।

Full form of M-Tech :-

Masters of Technology या masters of Engineering होता है। यह course 2 साल का होता है। यदि आप इस course मे admission लेना चाहते है।। तो B.E./ B.TECH करना Compulsory है। इसके बाद आप अच्छे भविष्य के लिये आप आगे M.Tech कर सकते है।।।

आजकल M.Tech करना जैसे trend सा हो गया है। जो engineering के field में अपना career बनाना चाहते है वह students, B.Tech और M.Tech बहुत अच्छे options है । यह Degree प्राप्त करने के बाद Students, Engineering के field में अच्छा प्रदर्शन कर सकते है ।‌।। नीचे इंजीनियरिंग के trade दिए गए हैं इनमें से कोई भी option choose कर के आप उसमे MTech कर सकते हो।।।

M-TECH course Duration :- 2 Years
Level: Post Graduation
Type: Degree
Eligibility: B.Tech/ B.E.

M- Tech trades :-

सिविल इंजीनियरिंग
एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
एयरोस्पेस इंजीनियरिंग
कृषि इंजीनियरिंग
ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग
बायोटैक्नोलॉजी
केमिकल इंजीनियरिंग
इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
इलेक्ट्रॉनिक्स और दूरसंचार इंजीनियरिंग
इलेक्ट्रॉनिक्स और इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग
इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
ऊर्जा इंजीनियरिंग
खाद्य जैव प्रौद्योगिकी
फूड प्रोसेस इंजीनियरिंग
सूचना प्रौद्योगिकी
मैरीन इंजीनियरिंग
मैकेनिकल इंजीनियरिंग
खनन अभियांत्रिकी
सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
कम्प्यूटर साइंस
विनिर्माण इंजीनियरिंग

दिए गए में से किसी में भी आप M-TECH कर सकते हैं अपने trade के अनुसार से।।।

Eligibility Criteria For Admission in M Tech Course :-

M Tech में Admission के लिए होने वाली पात्रता exam का syllabus, Graduate aptitude test (Gate) पर आधारित होता है।। यदि आप एम.टेक करना चाहते हैं तो आपको B.Tech./B.E कम्प्यूटर विज्ञान, कम्प्यूटर इंजीनियरिंग, सूचना प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन आदि में इंजीनियरिंग पास होनी चाहिए !!!


Admission के लिये gate exam clear करना होता है । Gate exam जो पूरे India मे सब के लिए common होता है और इसका syllabus भी सबके लिये common होता है।

Top 100 Engineering College in India 2019

GATE Exam क्या है ?

GATE Full Form – Graduate Aptitude Test in Engineering है । यह exam aspirants की knowledge को specific domain जिससे, उसने अपनी Graduation (B.E or B. Tech or B.Arch) की है उसे Test करता है ।।। GATE jointly conducted किआ जाता। GATE score card जरुरी होता है, M.Tech, M.E or Ph.D programs में admission के लिए। आगे Education field में career बना सकते है ।।

M.Tech में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां और सैलरी की जानकारी :-

1. Mechanical Engineering में M.Tech :-

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में पोस्ट ग्रेजुएशन मुख्य रूप से अकादमिक और उद्योग अनुसंधान परिप्रेक्ष्य से अच्छा है। वे विनिर्माण कंपनियों में से बहुत कुछ की मौजूदगी के कारण उचित अवसर है, भारत में, मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर की नौकरियां अपेक्षाकृत कम होती हैं। भारत में विनिर्माण क्षेत्र में बहुत कम शोध किया जा रहा है मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एम.टेक करने के बाद, आप राष्ट्रीय थर्मल पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनटीपीसी), भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल), भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) जैसी प्रतिष्ठित सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में इंजीनियर्स या कंसल्टेंट के रूप में काम कर सकते हैं।

Mechanical Engineering में M.Tech के बाद करियर/स्कोप :-

मैकेनिकल इंजीनियरिंग के स्नातकोत्तर के लिए उपलब्ध कुछ रोजगार अवसर हैं।
कई प्रमुख अंतरराष्ट्रीय निजी और साथ ही सरकारी फर्म अनुसंधान उद्देश्यों के लिए मैकेनिकल इंजीनियर्स को रोजगार देते हैं।
मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्षेत्र में उत्कृष्टता के उच्च गुणवत्ता वाले अनुसंधान केंद्र हैं।
वे निजी क्षेत्र में अग्रणी उद्योगों के प्रबंधकीय या प्रशासनिक विभागों के साथ नौकरी पा सकते हैं।
मैकेनिकल इंजीनियरिंग के स्नातकोत्तर सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में सहायक इंजीनियर्स, सहायक कार्यकारी अभियंता और कार्यकारी अभियंताओं के पदों में नौकरी के अवसर प्राप्त कर सकते है !!!


Mechanical Engineering में M.Tech के बाद जॉब प्रोफाइल :-

Mechanical Engineer
Mechanical Design Engineer
Senior Mechanical Engineer
Project Engineer
Product Engineer !!!


Mechanical Engineering में M.Tech के बाद सैलरी :-

कंप्यूटर साइंस में M.Tech के बाद आपकी अनुमानित सैलरी 50,000 से 1,50,000 तक हो सकती है और अगर आपका कार्य अनुभव अच्छा है तो इस क्षेत्र में आपकी सैलरी और भी अधिक हो सकती है !!!!

2 . Civil Engineering में M.Tech :-


सिविल इंजीनियरिंग में एमटेक मास्टर डिग्री कोर्स है। सिविल इंजीनियरिंग में एम.टेक में निर्माण और नियोजन के विभिन्न तरीकों के विस्तृत और विशेष अध्ययन शामिल हैं। अध्ययन भवनों के निर्माण और निर्माण की योजना के तरीकों पर बल दिया गया है। इस क्षेत्र में लोग समाज के निर्माण और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। अचल संपत्ति क्षेत्र में तेज़ और तीव्र वृद्धि के साथ, सिविल इंजीनियरिंग का अध्ययन बहुत महत्वपूर्ण और उपयोगी है। इस प्रकार यह विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जो पूरे विश्व में इतनी तेज़ी से हो रहा है। इंजीनियरिंग के इस क्षेत्र में विभिन्न चुनौतीपूर्ण कैरियर अवसर उपलब्ध हैं।

Civil Engineering में M.Tech के बाद करियर/scope :-

सिविल इंजीनियरिंग में पोस्ट ग्रेजुएट्स कई निजी क्षेत्र संगठनों में रोमांचक नौकरी भी पा सकते हैं।
कई प्रमुख निजी क्षेत्र संगठनों में भी प्रबंधकीय पदों की कोशिश कर सकते हैं !!
सॉफ्टवेयर क्षेत्र के क्षेत्र में काम करने वाली कई कंपनियां सिविल इंजीनियरिंग में पोस्ट ग्रेजुएट की भी भर्ती करती हैं।
सिविल इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर के लिए निजी क्षेत्र में शीर्ष संगठन IVRCL, Infra, Jaypee Group, Larsen & Toubro Limited, Punj Lloyd आदि हैं।
वे शिक्षण के क्षेत्र में अपना करियर भी अपना सकते हैं !!

Civil Engineering में M.Tech के बाद जॉब प्रोफाइल –

Civil Engineer
Construction Plant Engineer
Construction Project Engineers
Junior Civil Engineer/Technician
Planning Engineer
Project Coordinator / Project Engineer
Senior Engineer
Site Engineer
Teacher !!!

Civil Engineering में M.Tech के बाद सैलरी :-

सिविल इंजीनियरिंग में M-TECH के बाद आपकी अनुमानित सैलरी 50,000 से 1,00,000 तक हो सकती है !!!

3. Computer Science में M.Tech :-

कम्प्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग में एम.टेक कंप्यूटर साइंस के विभिन्न क्षेत्रों में उन्नत ज्ञान का विस्तार प्रदान करता है। यह पाठ्यक्रम इस तरह तैयार किया गया है कि छात्र केवल उन्नत शोध के आधार पर इसे पूरा कर सकते हैं। कंप्यूटर साइंस में हम M-TECH के पाठ्यक्रम में कंप्यूटर आर्किटेक्चर, नेटवर्किंग, एल्गोरिदम, डाटाबेस, डिस्ट्रिब्यूट कंप्यूटिंग और कम्प्यूटेशनल इंटेलिजेंस में उन्नत स्तर के पाठ्यक्रम शामिल हैं। यह कोर्स उन लोगों के लिए कम्प्यूटर साइंस में एक मजबूत आधार प्रदान करेगा, जो उद्योग में एक गंभीर कैरियर का चयन करते हैं !!!

Computer Science में M.Tech के बाद करियर/स्कोप :-

उम्मीदवार सार्वजनिक क्षेत्र में कई अवसर पा सकते हैं।
कई सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में एम.टेक के साथ उम्मीदवारों की भर्ती करती हैं।
इनमें से कुछ कंपनियां Google , Microsoft , Tata consultancy services ,ONGC, ISRO, ECIL, DRDL, SAIL आदि हैं !
उम्मीदवार विभिन्न सरकारी परीक्षाओं जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक परीक्षण, यूपीएससी, एसएससी आदि के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।
इच्छुक उम्मीदवार जो शिक्षण में रुचि रखते हैं विभिन्न सरकारी कॉलेजों में नौकरियों के अवसर प्राप्त कर सकते हैं|
उम्मीदवारों को विदेशों में भी कई रोजगार अवसर मिल सकते हैं।


Computer Science में M.Tech के बाद जॉब प्रोफाइल :-

Software Engineer
Software Developer
Software Tester
Project Manager
Network Analyst
IT Manager
Database Administrator
Director of IT


Computer Science में M.Tech के बाद सैलरी :-

कंप्यूटर साइंस में M.Tech के बाद आपकी आपके अनुभव और कंपनी पर निर्भर करती है इस फ़ील्ड में आपकी अनुमानित सैलरी 50,000 से 1,50,000 तक हो सकती है !!!

भारत के कुछ टॉप M.Tech कॉलेज :-

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास – (आईआईटी-एम), चेन्नई
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – (IIT), कानपुर
  • भारतीय विज्ञान संस्थान (IISC), बंगलौर
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – (BHU IIT), वाराणसी
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – (IIT), भुवनेश्वर
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – (IIT), पटना
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – (IIT), गांधी नगर
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी – (LPU), जालंधर
  • एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, पंत नगर गोविंद बल्लभ पंत विश्वविद्यालय
  • कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग (COEP), पुणे
  • Indian Institute of Technology Delhi (IIT Delhi)
  • IIT Bombay, Powai, Mumbai, Maharashtra
  • IIT Kanpur, Nankari, Kalyanpur, Kanpur
  • National Institute of Technology West Bengal
  • IIT KGP, Post Technology, Paschim Medinipur, Kharagpur
  • College of Engineering Trivandrum
  • IIT Roorkee, Century Road, Roorkee
  • IIT-BHU, Banaras Hindu University, Varanasi
  • IIT Patna Bihar
  • GNDU Amritsar
  • Amity university Noida
  • DTU Delhi
  • Rajasthan Technical university Kota
  • Lovely Professional university Punjab
  • Indian Institute Of Technology, Madras
    Indian Institute Of Technology, Bombay
    Indian Institute Of Technology, Guwahati

After M-TECH ( M-TECH के बाद ) :-

आज के इस आधुनिक दौर में टेकनीशियनों और इंजीनियरों की भारी मांग है। लगभग हर कंपनी में इनकी मांग रहती है। लेकिन शिक्षण क्षेत्र में जॉब तलाशना एक अच्छा आप्शन है!

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन ने लेक्चरर या सहायक प्राध्यापक के पद पर पढ़ाने के लिए एम.टेक. तक की शैक्षणिक योग्यता अनिवार्य कर दी है। आप शिक्षण क्षेत्र में भी आवेदन कर सकते हैं, बशर्ते आपकी इस क्षेत्र में रूचि हो !!

इसके अलावा देशभर में कई ऐसी छोटी-बड़ी संस्थाएं है , जहां आप रिसर्च वर्क या डेवेलपमेंट विंग के लिए एम. टेक. डिग्री धारकों की मांग होती है। बड़ी सरकारी संस्थाएं मसलन BARC भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर (बीएआरसी), नेशनल थर्मिनल पॉवर कारपोरेशन, ISRO इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन (इसरो), इंदिरा गांधी सेंटर फॉर एटॉमिक रिसर्च आदि में भी रिसर्च वर्क में असिस्टेंट की जरूरत रहती है !!!

ये पोस्ट भी पढ़ें –

B.Tech एडमिशन कैरियर course job

आईआईटी (Indian Institute of technology) एडमिशन , फीस , कैरियर, Entrance Exam, Eligibility criteria, All IIT fee’s , IIT

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *