B.Tech एडमिशन कैरियर course job

B.Tech क्या है कैरियर , job :-

कई छात्र 12 वी पास हो चुके है, और उनके मन में यह सवाल होगा की अब आगे क्या करे? कुछ छात्र आगे चल के engineer बनाना चाहते है. उनके लिए आज हम एक एसे ही कोर्स के बारे में जानकरी लेने वाले है.

B.Tech Full form :-

Bachelor of Technology

B.Tech क्या है? -(what is B-Tech ) –

भारत में, बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी डिग्री इंजीनियरिंग क्षेत्र स्नातक की डिग्री है. यह डिग्री 4 साल की होती है और यह कई विषयों में पूरी की जा सकती है.

B.tech यूजी कोर्स है जिसके पूरा होंने के बाद आप एक इंजीनियर बन सकते हैं.

बी.टेक साइंस स्ट्रीम वाले छात्र अपनी 12 वी पास होने के बाद पूरा कर सकते है.
जो छात्र जिस स्ट्रीम से बी.टेक पूरा कर लेते है उसको उस स्ट्रीम का इंजिनियर कहा जाता है. जैसे मान लीजिए किसी छात्र ने computer science से B.Tech पुरा कर लिया है तो उसको software engineer . Civil से तो Civil Engineer . Mechanical engineer, Electrical engineer etc

भारत में बी.टेक कोर्स 4 साल का होता है. जिसमे कुल 8 सेमिस्टर होते है.
बी.टेक कोर्स कई स्ट्रीम से किया जा सकता है:-
B.Tech In Information Technology
B.Tech In Electronics and Communication Engineering
B.Tech In Electrical Engineering
B.Tech In Mechanical Engineering
B.Tech In Civil Engineering
B.Tech In Petroleum Engineering
B.Tech In Chemical Engineering
B.Tech In Aerospace Engineering
B.Tech In Industrial Engineering
B.Tech In Computer Science and Engineering


B.tech criteria :-

  1. बी.टेक केलिए छात्र 12 वी साइंस पास होना चाहिए. (PCM/PCMB)
  2. 12 वी में कम से कम 60% अंक होने चाहिए.
    यदि आप IITs or NITs में प्रवेश लेना चाहते हैं, तो आपको प्रवेश एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है जो JEE Advanced और JEE Main होती है.

इसके अलावा कई स्टेट अपने अपने स्टेट लेवल की एंट्रेंस एग्जाम भी रखती है, वो भी देनी पड़ती है.
जो छात्र गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है उनको एंट्रेंस एग्जाम देनी अनिवार्य है, लेकिन कई प्राइवेट कॉलेज है जहा पर आपको डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है.

बी.टेक पूरा करने के बाद क्या करे ?

हर बी.टेक करने वाले स्टूडेंट के मन में यही सवाल होता है की बी.टेक पूरा करने के बाद क्या करे ?
यह एक UG याने अंडर ग्रेजुएट कोर्स है, जिसको पूरा करने पर छात्र जॉब कर सकते है. या फिर आगे पढाई याने PG में एम्.टेक कोर्स कर सकते है.

एम्.टेक याने मास्टर ऑफ़ टेक्नोलॉजी यह एक PG कोर्स है. एम्.टेक करने के बाद छात्र as a प्रोफेसर वर्क कर सकते है.
बी.टेक पूरा करने के बाद कई सारी multi-national कंपनी में जॉब भी कर सकते है. जिसमे कुछ पोपुलर कंपनी भी शामिल है जैसे :
Google

Facebook

IBM

Tata consultancy services
Infosys
Tata Motors

Microsoft



बी.टेक के बाद सैलरी कितनी मिलती है ?

सैलरी इसमें फिक्स नहीं कह सकते. क्यों की सैलरी स्ट्रीम और अनुभव पर निर्भर करती है. लेकिन फिर भी शुरवात में Rs 20,000 to 30,000 per month मिल सकती है.
एक्सपीरियंस के आधार पर आगे बढ़ कर सालाना 4-5 लाख का पैकेज भी मिल सकता है.!


बी.टेक के लिए प्रमुख संस्थान –

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, मद्रास (चेन्नई, तमिलनाडु)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, बॉम्बे (मुंबई, महाराष्ट्र)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, खड़गपुर (खड़गपुर, पश्चिम बंगाल)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, दिल्ली (नई दिल्ली)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, कानपुर (उत्तर प्रदेश)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, रुड़की (उत्तराखंड)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, हैदराबाद
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, गांधीनगर (अहमदाबाद, गुजरात)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, रोपड़-रूपनगर (पंजाब)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेकनॉलजी, पटना (बिहार)

Job B.tech बाद :-

प्राइवेट कंपनी: प्राइवेट कंपनियां खासतौर पर टेक्निकल जॉबों पर मुख्य रूप से जोर देती हैं। प्राइवेट सेक्टर में नौकरियों को तकनीकी और गैर तकनीकी दो श्रेणियों में बांटा जा सकता है। बी.टेक की कई प्रांच जैसे इलेक्ट्रोनिक्स, कंप्यूटर साइंस, इन्फर्मेशन साइंस, मकैनिकल, सिविल और इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी आदि हैं। इन ब्रांचों के हिसाब से अलग-अलग कंपनियों में नौकरियां उपलब्ध होती हैं।

अलग-अलग कंपनियों की अलग जरूरत होती है। जैसे सर्वे करने वाली कंपनी में किसी ऐसे सिविल इंजिनियर की जरूरत होती है जो सर्वे के काम में माहिर हो। उनको कैड (कंप्यूटर ऐडेड इंजिनियरिंग ड्राइंग) का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

हार्डवेयर इंडस्ट्रीज में अच्छी नॉलेज वाले मकैनिकल इंजिनियरों की भर्ती की जाती है।
सॉफ्टवेयर कंपनियों में उन कैंडिडेट्स की भर्ती की जाती है जिनको सी, सी++, जावा, सॉफ्टवेयर टेस्टिंग, वेब टेक्नॉलजी, पाइथन आदि की अच्छी जानकारी हो। अभी के समय में जावा एक ऐसा प्लैटफॉर्म है जिसमें रोजाना रोजगार के नए-नए अवसर खुल रहे हैं। जावा डिवेलपर्स की मार्केट में खूब मांग है। बी.टेक के साथ अगर आप जावा सीख लेते हैं तो रोजगार के अवसर काफी मिलेंगे। इसके अलावा कोडिंग पर अच्छी कमांड रखने वाले लोगों की सॉफ्टवेयर कंपनियों में अच्छी डिमांड रहती है।

सरकारी सेक्टर में जॉब: सरकारी सेक्टर की नौकरियों को दो श्रेणियों में बांटा जाता है। एक होती है प्रशासकीय नौकरियां जिनमें एसएससी (स्टाफ सिलेक्शन कमिशन), सीजीएल, बैंक पीओ, आईएएस/सिविल सर्विस, क्लर्क लेवल की नौकरियां शामिल हैं। इन सभी नौकरियों को करने के लिए किसी भी फील्ड में ग्रैजुएशन होना अनिवार्य है। एसएससी और सीजीएल जॉब में तीन स्तर निरीक्षक स्तर, उप निरीक्षक स्तर और सहायक स्तर की होती हैं।

सरकारी विभाग में तकनीकी जॉब का विवरण निम्न प्रकार से है…
एग्जिक्युटिव इंजिनियर: एग्जिक्युटिव इंजिनियर की जॉब के लिए इंजिनियरिंग सर्विस एग्जाम (ईएसई) या आईईएस (इंडियन इंजिनियरिंग सर्विसेज) का एग्जाम क्लियर करना होता है।

असिस्टेंट इंजिनियर: अलग-अलग विभाग के अलग नियम होते हैं।

जूनियर इंजिनियर: जूनियर इंजिनियर बनने के लिए एसएससी जेई/एई एग्जाम देना होता है। एग्जाम में बैठने के लिए बी.टेक, डिप्लोमा या बी.टेक से हाई क्वॉलिफिकेशन होना जरूरी है। सिर्फ इलेक्ट्रिकल, मकैनिकल और सिविल ब्रांच के कैंडिडेट्स को इन परीक्षाओं में बैठने की अनुमति मिलती है। सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 28 साल है।

इसके अलावा आप साइटिंस्ट और टीचर भी बन सकते हैं।

ऐसी ही और भी कैरियर से संबंधित जानकारी के लिए हमारे होम पेज पर जाकर चेक करे वहां आपको लगभग सारी जानकारी मिल जाएगी। बी-टेक या फिर प्राइवेट या गवर्मेंट इंजीनियरिंग कॉलेज से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, कालेज व टाप इंजीनियरिंग कॉलेज की लिस्ट भी दी गई है जो एडमिशन लेने के समय काफी लाभदायक साबित होगा।

One Comment on “B.Tech एडमिशन कैरियर course job”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *