B.Ed (Bachelor of Education) में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां और सैलरी की पूरी जानकारी

 

 

B.Ed (Bachelor of Education) आमतौर पर भारत के कई विश्वविद्यालयों / कॉलेजों द्वारा प्रदान की गई एक स्नातक डिग्री है। यह पाठ्यक्रम उन छात्रों के लिए बनाया गया है जो टीचिंग(छात्रों को पढ़ाने) में रूचि रखते है, आप इस पाठ्यक्रम में स्नातक के बाद भाग ले सकते है, यह कोर्स एक कौशल प्रशिक्षण आधारित है जो छात्रों को सभी आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान करने पर केंद्रित है ताकि वे कक्षा शिक्षण के सभी पहलुओं के बारे में स्पष्ट कर सकें। जो छात्र कला क्षेत्र से स्नातक हैं, उन्हें इतिहास, भूगोल, अंग्रेजी आदि जैसे विषयों को पढ़ाया जाता है। जबकि विज्ञान क्षेत्र में स्नातक छात्रों को रसायन विज्ञान, भौतिकी, जीव विज्ञान आदि पढ़ाया जाता है।

B.Ed (Bachelor of Education) में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां और सैलरी की पूरी जानकारी –

नए नियमों के अनुसार B.Ed दो साल का कोर्स कर दिया है। और यह कोर्स विश्वविद्यालयों द्वारा प्रदान किया जाता है |भारत में, बी.एड उच्च विद्यालय के स्तर पर पढ़ाने के लिए किसी भी छात्र के लिए एक प्रमुख शर्त है। साथ ही, नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन एकमात्र प्राधिकरण है|

Bachelor of Education(B.Ed) में एडमिशन के लिए योग्यता:-

B.Ed में एडमिशन लेने के लिए छात्र को B.SC, B.COM ,B.A आदि में स्नातक होना आवश्यक है|
और साथ ही छात्र के स्नातक में 50% अंक होने अनिवार्य है|
B.Ed में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है और प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंको के आधार पर एडमिशन होते है|

भारत में B.Ed कोर्स करवाने वाले कुछ टॉप कॉलेज: –

University of Delhi, New Delhi
Jamia Milia Islamia University, New Delhi
Lovely Professional University
Amity University, Lucknow, Uttar Pradesh
Banaras Hindu University Varanasi, Uttar Pradesh
Mahatma Gandhi University, Kerala
Guru Gobind Singh Indraprastha University, New Delhi

B.Ed में फीस:-

Bachelor of Education(B.Ed) में आपकी आनुमानित फीस 50,000 से 70,000 प्रतिवर्ष तक हो सकती है| सरकारी कॉलेज में आपकी फीस 16,000 से 32,000 प्रतिवर्ष तक हो सकती है|

B.Ed के बाद स्कोप/ करियर और नौकरी:-

बीएड डिग्री प्राप्त करने के बाद, आप माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में नौकरी पाने के पात्र होते हैं|
बीएड करने के बाद आपको अपनी रुचि के अनुसार स्थायी, अस्थायी, अंशकालिक या पूर्णकालिक के रूप में एक शिक्षण नौकरी की पेशकश की जाती है|
बीएड डिग्री के साथ आप स्कूलों, शिक्षा विभाग, कोचिंग केंद्र, शिक्षा परामर्श, घर और निजी ट्यूशन आदि में काम कर सकते हैं।
स्कूलों में शिक्षण के अलावा, आप अपने स्वयं के कोचिंग संस्थान खोल सकते हैं, जहां आप छात्रों को ट्यूशन प्रदान कर सकते हैं|
B.Ed के बाद आप M.Ed भी कर सकते हो|
जॉब प्रोफाइल:

टीचर
प्रिन्सिपल
काउंसलर
शिक्षा शोधकर्ता
प्रशिक्षक
शिक्षा सलाहकार
Bachelor of Education(B.Ed) के बाद सैलरी:-

भारत में एक शिक्षक का औसत वेतन लगभग 3 लाख प्रतिवर्ष होता है। शिक्षा क्षेत्र में एक अच्छा अनुभव और डिग्री होने के साथ आपका वेतन बढ़ता है| सरकारी स्कूलों में एक टीजीटी(TGT) टीचर प्रति वर्ष तीन लाख से अधिक वेतन कमा सकता है और एक पीजीटी(PGT) टीचर प्रति वर्ष 4.5 लाख रुपये का वेतन प्राप्त कर सकता है।

शिक्षण क्षेत्र में बी.एड. का महत्व :-

हम जानते हैं कि एक शिक्षित समाज ही स्वस्थ समाज के रूप में उभर सकता है| शिक्षा, हमारे लिए सिर्फ रोजगार का माध्यम नहीं बनती, बल्कि हमें जीवन को बेहतर तरीके से जीने का सलीका सिखाती है। एक शिक्षित मनुष्य जीवन की जटिलतम समस्याओं को भी बेहद आसानी से सुलझा सकता है।
इसीलिए शिक्षा हासिल करना हर व्यक्ति का जन्मसिद्ध अधिकार है। किसी भी छात्र को शिक्षा देने की प्रक्रिया में शिक्षक की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण होती है। एक शिक्षक सिर्फ अपने शिष्य को शिक्षित नहीं करता बल्कि इसी माध्यम से देश और अपने समय की पीढ़ी को भी शिक्षित करता है। इसीलिए समाज में शिक्षण कार्य को बेहद सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है।

शिक्षा के इस महत्त्व को समझते हुए ही भारत में शिक्षण कार्य करने के लिए एक विशेष डिग्री हासिल करनी होती है जिसे हम बी.एड. कहते हैं। यह 2 वर्ष का स्नातक कोर्स होता है जिसमें शिक्षा, संस्कृति और मानवमूल्य, शैक्षणिक मनोविज्ञान, शैक्षणिक मूल्यांकन, शिक्षा दर्शन आदि विषय पर अध्ययन किया जाता है।

इसे करने के बाद आप शिक्षण कार्य हेतु तैयार हो जाते हैं। बी.एड. किये बिना आप एक शिक्षक के रूप में कार्य नहीं कर सकते हैं।

2 Comments on “B.Ed (Bachelor of Education) में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां और सैलरी की पूरी जानकारी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *