होटल मैनेजमेंट में करियर , जाॅब, कोर्स – Hotel Management career job, Skill , institute, Course (D.H.M , B.H.M )

होटल मैनेजमेंट में करियर , जाॅब, कोर्स :-

हॉस्पिटालिटी फील्ड के अंतर्गत विभिन्न वर्टिकल शामिल हैं. किसी भी टूरिस्ट को पूरे वर्ल्ड को घूमने, जानने, देखने, समझने में सहयोग करने में होटल इंडस्ट्री अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. यह इंडस्ट्री प्रोडक्ट और सर्विस दोनों का बिलकुल सही अनुपात में उपयोग लोगों को सुविधा मुहैया कराकर करती है. होटल मैनेजमेंट कोर्स के अंतर्गत उन स्किल्स के विकास का अध्ययन किया जाता है जो ग्राहकों को इस इंडस्ट्री में सर्वोत्तम अनुभव प्रदान करने हेतु अति आवश्यक होते हैं.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज का मुख्य उद्देश्य होटल कर्मचारियों द्वारा ग्राहक की अपेक्षाओं और उसे मिलने वाली सेवाओं बीच के अंतर को समाप्त करना है.अर्थात उन्हें अपनी सेवाओं से पूरी तरह संतुष्ट करना है.

होटल मैनेजमेंट का दायरा
हर क्षेत्र में रिसॉर्ट्स, एयरलाइंस, क्रूज, क्लब, फूड कैफे, रेस्तरां आदि में होटल मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स की बहुत अधिक आवश्यकता होती है. देश के जीडीपी में महत्वपूर्ण योगदान देने के कारण इस इस इंडस्ट्री में ग्रोथ की संभावना बहुत अधिक है तथा इस इंडस्ट्री की सेवाओं का उपभोग दुनिया भर के टूरिस्ट द्वारा किया जाता है. स्किल्ड होटल मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स को होटल मैनेजमेंट का बैक बोन माना जाता है.

किसी भी होटल से जुड़े हुए सभी कार्यो को संचालन, उसकी देखरेख, करना ही होटल मैनेजमेंट से सिखाया जाता है. वैसे तो इसमें कई काम हैं जिनका लिस्ट बनाया जाये तो आप पढ़ते – पढ़ते थक सकते हो. लेकिन कुछ कॉमन बातें हैं जिन्हें मैं बताती हूँ.

Hotel Booking
Customer Service
Kitchen
Event Management
Hospitality

Hotel management का course कैसे करे ?

मैं आपको आज वो हर बात बताऊंगा जो hotel management के लिए ज़रूरी है लेकिन आप से भी मुझे एक request है की पोस्ट को ध्यान से पढ़े क्यूंकि बहुत से लोग comment section में ऐसे सवाल पूछते है है जो already मैंने पोस्ट में बता रखा होता है इसलिए पहले पोस्ट को पढ़े अगर answer नहीं मिलता तब comment करे

hotel management करना चाहते है तो आपके लिए बहुत से course available है लेकिन मैं आपको उन top 4 courses के बारे में बताने जा रहा हूँ जो सबसे ज्यादा students को पसंद आते है :-


1) Bachelor of Hotel Management: – (B.H.M )

इस course को B.H.M. भी बोला जाता है और यह पुरे 4 साल का undergradute course होता है. इस course को 8 semester में बांटा गया है और इन 8 semester में student को theoretical साथ में practical classes भी लेने होते है. इस course को करने के बाद student को hotel के साथ tourism management की भी अच्छी समझ हो जाती है

होटल मैनेजमेंट से जुड़ें एंट्रेंस एग्जाम-
डिप्लोमा लेवल-
-एआईएचएणसीटी वाट
-एआईएमए यूजीएटी,
-बीआईटी मेर्सा होटल मैनेजमेंट एग्जाम
-बीवीपी सीईटी
अंडर ग्रेजुएट लेवल-
-एआईएमए यूजीएटी
-एआईएचएमसीटी वाट
-बीवीपी सीईटी
-डीटीई एचएमसीटी
-जेट एंट्रेंस एग्जाम
पोस्ट ग्रेजुएट लेवल-
-यूपीईएस मैट
-कैट
-सीमैट
-एक्सएटी
-एनएमएटी
-जीमैट
-मैट

Eligibility Criteria: Student का 12th पास होना ज़रूरी है. Minimum percentage institute के हिसाब से अलग हो सकते है लेकिन यह ज्यादातर 45-50% के बीच होते है

2) Diploma in Hotel Management:

अगर कोई hotel management को अच्छी तरह समझना चाहता है तो उसके लिए bachelor degree best है लेकिन जैसा की हमने अभी ऊपर पढ़ा bachelor course का duration 4 साल है अगर कोई इतना समय hotel management के course पर नहीं दे सकता तो उसके लिए diploma in hotel management course best रहेगा क्यूंकि इस course का duration सिर्फ 1 साल है लेकिन याद रहे diploma की ज्यादा value नहीं होती है bachelor की तुलना में
Eligibility Criteria: इस course को 12th पास student भी कर सकते है और 10th पास student भी कर सकते है लेकिन यह institute पर निर्भर करता है की वो 10th के लिए है या 12th के लिए कुछ institute में 12th और 10th दोनों allowed होते है

3) B.Sc in Hotel Management & Catering:

इस course का duration 3 years है जो B.H.M. course से 1 साल कम है लेकिन D.H.M. course से 2 साल ज्यादा है. यह course भी hotel management field के लिए बहुत अच्छा है. अगर आपके पास 3 years का समय है कुछ करने को तो इस course को आप कर सकते हो

Eligibility Criteria: इस course के लिए भी 12th पास होना ज़रूरी है और आपके कम से कम चार subjects में 50% marks होने चाहिए. अगर यह eligibility पूरी होती है तभी आप यह course कर सकते हो

4) B.B.A. in Hotel Management:
B.B.A. का full form Bachelor of Business Administration होता है. यह 3 साल का undergraduate course होता है जिसे 6 semester में बांटा गया है . अगर कोई अपनी management skill, organizational skill, communication skill को सुधारना चाहता है तो यह course उनके लिए perfect है

Eligibility Criteria:-

इस course का भी eligibility criteria दुसरे course जैसा ही है इस course के लिए भी आपको कम से कम 50% 12th मेंscore करने होते है!

नीचे कुछ ऐसे ही सब स्पेशलाइजेशन कोर्सेज का वर्णन किया गया है –

फूड साइंस एंड डाईटिक मैनेजमेंट

यह विषय छात्रों को पोषण परामर्श, मेनू योजना, खाद्य गुणवत्ता नियंत्रण जैसे विषयों पर व्यावहारिक कौशल प्रदान करता ताकि छात्र फूड सर्विस के मामले में अपने मेहमानों की सही सेवा कर सकें. वे अच्छी तरह से यह सुनिश्चित पाएं कि मेहमानों को दिया जाने वाला भोजन पोषण युक्त है या नहीं.

मार्केटिंग ऑफ सर्विसेज

इस सब स्पेशलाइजेशन के तहत होटल के प्रोडक्ट और सर्विस को ट्रांसपेरेंट तरीके से टूरिस्ट तक पहुंचाना अर्थात उन्हें सभी सुविधाएँ आसानी से उपलब्ध करना और होटल की विश्वसनीयता से जुड़े पहलुओं का अध्ययन किया जाता है. इसके अतिरिक्त अपनी विभिन्न सुविधाओं के माध्यम (यानी भोजन, कमरे, होटल कर्मचारी और पूरक सेवाओं जैसे स्पा सुविधा, गेमिंग लाउंज इत्यादि) से कस्टमर्स को संतुष्ट तथा खुश रखने की विभिन्न रणनीतियाँ, ट्रिक तथा टैक्टिस का ज्ञान भी प्रदान किया जाता है.

इवेंट एंड कॉन्फेरेन्स मैनेजमेंट

इसके अंतर्गत घटनाओं और सम्मेलनों को व्यवस्थित करने से संबंधित स्किल्स के विकास पर बहुत जोर दिया जाता है. वैसे इवेंट मैनेजमेंट का एक विस्तृत फलक है लेकिन इस स्पेश लाइजेशन द्वारा होटल मैनेजमेंट के अंतर्गत होटल के किसी भी इवेंट का मैनेजमेंट होटल के कर्मचारियों द्वारा ही किया जाता है तथा वे किसी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की सहायता नहीं लेते हैं.

होस्पिटलिटी लॉ

किसी भी संस्थान को सुचारू रूप से चलाने में होस्पिटलिटी लॉ ही मुख्य आधार होता है. होटल इंडस्ट्री में भवन, कर्मचारियों और ग्राहकों की सुरक्षा से संबंधित विभिन्न कानून भी हैं. इस विषय में स्पेशलाइजेशन होटल इंडस्ट्री से जुड़े कानूनों को समझने तथा इसके दायरे में घटित होने वाले अपराधों से बचने की प्रक्रिया को अच्छी तरह से समझने पर जोर दिया जाता है ताकि जरुरत पड़ने पर वे सभी हालातों का सामना बिना किसी परेशानी के कर सकें.

फैसिलिटी प्लानिंग,डिजाइन और मैनेजमेंट

होटल इंडस्ट्री में फैसिलिटी प्लानिंग और डिजाइन मैनेजमेंट का बहुत अधिक महत्व होता है. क्योंकि होटल की सुन्दरता ही अत्यधिक टूरिस्ट को अपनी तरफ आकर्षित करती है.इसलिए अगर होटल की फैसिलिटी प्लानिंग और उसके विस्तृत ले आउट को सही तरीके से डिजाइन करने की इच्छा आपमें है तो अवश्य ही यह सब स्पेशलाइजेशन आपकी पहली च्वाइस होगी.

होटल मैनेजमेंट में इंडिया के प्रमुख संस्थान (Hotel Management Institute In India)-
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन, दिल्ली
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन, मुंबई
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन, चेन्नई
-डिपार्टमेंट ऑफ होटल मैनेजमेंट, क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर
-आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी, बैंगलोर
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन, पंजाब
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी, केरल
-वेलकम ग्रुप ग्रेजुएट स्कूल ऑफ होटल एडमिनिस्ट्रेशन, उडुपी
-इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइज न्यूट्रीशन, लखनऊ
-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट, अहमदाबाद
होटल मैनेजमेंट इंडस्ट्री के टॉप रिक्रूटर्स (Hotel Management Placement)-
-ताज ग्रुप्स ऑफ होटल्स
-ओबेरॉय ग्रुप्स ऑफ होटल्स
-ले मेरिडियन ग्रुप्स ऑफ होटल्स इन इंडिया
-वेलकम ग्रुप होटल
-मैरियट इंटरनेशनल, इंक
-हयात कॉर्पोरेशन
-आईटीसी लिमिटेड होटल डिवीजन
-स्टारवुड होटल एंड रिसॉर्ट्स वर्ल्डवाइड इंक
-रैडिसन

Hotel Management Salary:-

Salary तो इस बात पर depend करती है की आप किस hotel में काम कर रहे हो लेकिन फिर भी आपके संतुष्टि के लिए मैं बताना चाहूँगा की five star hotel में starting salary 15,000-20,000 हो सकती है experience और काम के साथ यह salary 45,000-50,000 तक जा सकती है लेकिन मैं फिर से मैं कहना चाहूँगा की salary hotel और आपके काम पर depend करती है!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *