योग में करियर स्कोप सैलरी Yoga Me Career Scope

योग में करियर स्कोप सैलरी -अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस ( International Yog day ) के आस्तित्व में आने के बाद देश-दुनिया में योग को तेजी से अपनाया जा रहा है। भारत में योग के प्रति लोगों का रूझान तेजी से बढ़ता जा रहा है ।लोग योग के शरीर और मस्तिष्क पर पड़ने वाले बेहतर और सकारात्मक प्रभाव के कारण इसे अपना रहे है ।

ऐसे में योग अब महज शरीर को स्वस्थ रखने का जरिया नहीं , बल्कि एक व्यापक इंडस्ट्री बन गया है जिसमें करियर बनाने की बेशुमार संभावनाएं हैं । और आगे आने वाले समय में योग में करियर स्कोप संभावनाएं बढ़ने वाली है।।।

प्रचलित चिकित्सा पद्धति के नुकसान के चलते जहां लोगों में आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा का प्रचलन बढ़ रहा है , वहीं कुछ वर्षों से योग के प्रति भी लोगों का रुझान तेजी से बढ़ा है।

योगा आने वाले दिनों में केवल फिटनेस या वोकेशनल कोर्स तक समित नहीं रह जाएगा। योग में बाकायदा अब करियर बनाने और बेहतर जॉब के ऑप्शन खुलेंगे। योग को यूनिवर्सिटी लेवल पर लाने की तैयारी चल रही है, इसके लिए केंद्र सरकार ने हरी झंडी भी दे दी है। योग को एक सब्जेक्ट के रूप में विकसित किया जाएगा और इसके लिए हायर एजुकेशन की व्यवस्था होनी है। तो अब आपके लिए योग केवल सेहत का जरिया नहीं बल्कि पढ़ाई और कमाई का जरिया भी होगा। जिसमे करियर की शुरूआत आप कर सकते हैं।

यूजीसी ने योग में अब बीएससी, एमएससी, पीएचडी और पीजी डिप्‍लोमा इन योगा और पीजी डिप्‍लोमा इन योगा थेरेपी का अप्रूवल दे दिया है। पहले फेज में करीब छह सेंट्रल यूनिवर्सिटीज़ में ये कोर्स शुरू होंगे।
हर सरकारी व‍िश्‍वविद्यालय में योग डिपार्टेमेंट होना अब जरूरी होगा।

शैक्षणिक योग्यता :-

इस क्षेत्र में आप अपने करियर की शुरुआत 12वीं या ग्रेजुएशन के बाद कर सकते है !

Yoga course details :-

इस क्षेत्र में कई पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं जिनके द्वारा छात्र इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं। कुछ सबसे अधिक मांग वाले पाठ्यक्रमों की जानकारी दी गई है –

१. सर्टिफिकेट कोर्स योग में Certificate Course inYoga(CCY) –


यह डेढ़ महीने का कोर्स है जिसमें एचएससी उत्तीर्ण है। इस कोर्स के लिए कोई आयु सीमा नहीं है।

२. बैचलर कोर्स योग में ( Bachelor Course In Yoga ) –


बैचलर इन आर्ट्स (योग दर्शन)-इस कोर्स की अवधि न्यूनतम 50% अंक हासिल करने वाले किसी भी स्ट्रीम से 10 + 2 की योग्यता के साथ तीन साल होगी।

३. यूजी योग शिक्षा में डिप्लोमा ( UG Yog in Diploma ) –

यह योग में एक प्रमाण पत्र के साथ किसी भी स्ट्रीम से स्नातक की योग्यता के साथ छह महीने की इंटर्नशिप के साथ एक साल की अवधि का कोर्स है।

४. पोस्ट ग्रेजुएशन योग में ( Post Graduation In Yoga ) –


पीजी योग थेरेपी में डिप्लोमा-यह किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम के साथ स्नातक की योग्यता के साथ एक साल की अवधि का कोर्स है।

५. योग में कला के मास्टर-

यह किसी भी स्ट्रीम से न्यूनतम स्नातक की योग्यता के साथ दो साल की अवधि का कोर्स है।

६. अन्य कोर्स योग में ( Other Courses In Yoga ) –


योग में उन्नत योग शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम (AYTTC)- योग में दो साल के शिक्षण अनुभव के साथ योग में प्रमाणपत्र, डिप्लोमा या स्नातक की योग्यता के साथ एक महीने की अवधि का कोर्स !!!

योग में कॅरियर बनाने के लिए ये है जरूरी :-

बनें अच्छे स्पीकर

योग में करियर बनाने के लिए जरूरी है कि आप एक अच्छे स्पीकर हों. आप एक व्यक्ति से लेकर ग्रुप तक को अपनी बात योग के जरिए समझाने की क्षमता होनी चाहिए. इसके अलावा आपको अपनी भाषा के साथ-साथ इंग्ल‍िश का अच्छा ज्ञान जरूरी है. यदि आप योग के साथ-साथ किसी एक अन्य विदेशी भाषा में भी महारत हासि‍ल किए हैं तो आपको यह मौका आसानी से मिल सकता है !

अच्छे संस्थान से योग का प्रशिक्षण जरूरी

योग टीचर बनने से पहले स्वंय भी योग के बारे में विस्तृत जानकारी रखें. इसके बाद किसी अच्छे संस्थान से प्रशिक्षण और इसकी लगातार प्रैक्टिस जारी रखना जरूरी है. सही प्रैक्टिस न होने पर योग में आपको किताबी ज्ञान सफल नहीं बना सकता हैं।

इन संस्थानों से कर सकते हैं योग से कोर्स

  • मोरारजी देसाई नेशनल इस्टीट्यूट ऑफ योग, दिल्ली(ग्रेजुएट करने के बाद यहां से 3 साल का बी.एससी योगा साइंस, 1 साल का डिप्लोमा और कुछ पार्ट टाइम योग के कोर्स किए जा सकते हैं) वेबसाइट: www.yogamdniy.nic.in
  • बिहार योग भारती, मुंगेर(यहां से 4 महीने और 1 साल का कोर्स कर सकते हैं) वेबसाइट: www.biharyoga.net/bihar-yoga-bharati/byb-courses
  • भारतीय विद्या भवन, दिल्ली(यहां से आप 6 महीने से लेकर 1 साल तक का कोर्स कर सकते हैं) वेबसाइट: www.bvbdelhi.org
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ योगा एंड नेचुरोपैथी, नई दिल्ली
  • मोरारजी देसाई इंस्टीट्यूट ऑफ नेचुरोपैथी एंड योग, नई दिल्ली
  • लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ, उत्तर प्रदेश
  • डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद, उत्तर प्रदेश
  • बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी, उत्तर प्रदेश
  • देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड
  • गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड
  • हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड
  • पतंजलि विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड
  • बरकतुल्ला विश्वविद्यालय, भोपाल, मध्य प्रदेश
  • डॉ. हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर, मध्य प्रदेश
  • जीवाजी विश्वविद्यालय, ग्वालियर, मध्य प्रदेश |
  • लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, ग्वालियर, मध्य प्रदेश
  • रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जबलपुर, मध्य प्रदेश
  • महर्षि महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय, कटनी, मध्य प्रदेश
  • कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, हरियाणा !!!
यहां से आप योग में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं –
  • अय्यंगर योग सेंटर, पुणे(यहां से आप योग का प्रशिक्षण ले सकते हैं) वेबसाइट: iyengaryogakshema.org
  • कैवल्यधाम योग इंस्टीट्यूट, पुणे(यहां से सर्टिफिकेट कोर्स इन योग, पीजी डिप्लोमा इन योग एजुकेशन, पीजी डिप्लोमा इन योग थिरैपी, फाउंडेशन कोर्स इन योग, एडवांस योग टीचर्स ट्रैनिंग, बीए- योग फिलोस्फी, मास्टर क्लास फॉर योग टीचर्स का कोर्स किया जा सकता है.) वेबसाइट: kdham.com/college/
  • स्वामी विवेकानंद योग अनुसंधान संस्थान, बेंगलुरु(यह डीम्ड यूनिवर्सिटी है. यहां से रेगुलर और डिस्टेंस योगा कोर्स कर सकते हैं. योग में बी.एससी, एम. एससी, पी. एच.डी. की डिग्री ले सकते हैं) वेबसाइट: www.svyasa.org
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ योगिक साइंस एंड रिसर्च(यहां से योग में कई छोटे अंतराल के कोर्स से लेकर मास्टर डिग्री तक के कोर्स किए जा सकते हैं) वेबसाइट: www.iiysar.co.in
  • देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड(यहां से आप योग मे बी.एससी से लेकर पी.एचडी तक के कोर्स कर सकते हैं) वेबसाइट: www.dsvv.ac.in
  • द योग इंस्टीट्यूट सांताक्रूज, मुंबई(सन् 1918 में स्थापित इस योग संस्थान से योग की शिक्षा ली जा सकती है) वेबसाइट: theyogainstitute.org/
  • गुरूकुल कॉंगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड(यहां से योग में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स किए जा सकते हैं. वेबसाइट: www.gkv.ac.in

यहां मिलेगा काम :-


योग एक विज्ञान है जिसे सीखने के लिए योग्य और प्रशिक्षित शिक्षक की जरूरत होती है. योग शिक्षक अपना खुद का काम भी शुरू कर सकते हैं. तमाम ऐसे योग शिक्षण संस्थान हैं जहां योग शिक्षक के लिए ढेरों वैकेंसी है. कुल मिलाकर आप यहां मौके तलाश सकते हैं.

  • रिसर्च
  • अकादमिक
  • हेल्थ रिसॉर्ट
  • अस्पताल
  • जिम
  • स्कूल
  • स्वास्थ्य केंद्र
  • हाउसिंग सोसाइटियां
  • कार्पोरेट घराने
  • टेलीविजन चैनल भी योग प्रशिक्षक हायर करते हैं और जाने-मानी हस्तियां भी प्राइवेट योग इंस्ट्रक्टर हायर करते हैं।।

योग में करियर स्कोप –

योग के बाद आप रिसर्च सेक्टर में अपनी जगह बना सकते हैं, देश के नामी संस्थान से रिसर्च के बाद आप विदेश में भी नौकरी कर सकते हैं.
देश के नामी हेल्थ रिसॉर्ट और इंटरनेशनल फाइव स्टार होटल चेन में भी योग इंस्ट्रक्टर की जॉब निकलती है ।

नामी निजी अस्पतालों में भी योग प्रशिक्षकों की जॉब मिलती है. यहां मरीजों को बीमारी के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य सुधारने में भी योग मदद करता है ।

इसके अलावा योग में प्रशिक्षण प्राप्त करके आप जिम, स्कूल और हाउसिंग सोसायटीज में भी जॉब पा सकते हैं. हाउसिंग सोसायटी में आप खुद का भी काम शुरू कर सकते हैं ।

नामी कार्पोरेट घराने और टेलीविजन चैनल भी योग प्रशिक्षक हायर करते हैं. इन‍ दिनों देश विदेश की जाने-मानी हस्तियां भी प्राइवेट योग इंस्ट्रक्टर हायर करती हैं ।

योग का प्रशिक्षण हासिल कर योग एयरोबिक्स इंस्ट्रक्टर, योग थेरेपिस्ट, योग इंस्ट्रक्टर, योग टीचर, थेरेपिस्ट एंड नैचूरोपैथ्स, रिसर्च ऑफिसर के तौर पर काम किया जा सकता है।

वेतन :-

योग प्रशिक्षक के रूप में आप आरम्भ में 5 से 20 हजार रु० तक प्रतिमाह प्राप्त कर सकते है, अनुभव बढ़ने पर वेतन में वृद्धि हो सकती है, यह वेतन संस्था के स्टेटस के ऊपर भी निर्भर है । यह आपकी काम की दक्षता पर निर्भर करता है। यदि आपकी संस्था अच्छे स्थान पर है, तो वेतन अधिक प्राप्त हो सकता है |

करियर से संबंधित और भी ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे ।।।

Career jankari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *