मास कम्युनिकेशन में एडमिशन, कोर्स फीस, करियर, सैलरी Mass Communication

Career in Mass Communication ( Mass Communication and Journalism ) :-

मास कम्युनिकेशन कोर्स

12वीं के बाद मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के बारे में सोच रहे हैं, तो उनके लिए यह कोर्स बेस्ट है ! यह कोर्स काफी मजेदार हैं। जिसको पढ़ने में मज़ा आयेगा। इस कोर्स के माध्यम से आप यह सीखते हैं, कि कैसे एक ही समय में दुनिया की किसी भी चीज से संबंधित जानकारी, पूरी दुनिया में संचार किया जाता है ! इन खबरों को अखबारों, किताबों, पत्रिकाओं, वेबसाइटों, ब्लॉगों, रेडियो, फिल्म और टेलीविजन का उपयोग कर संचार के विभिन्न क्षेत्रों में किया जाता है , यह क्षेत्र काफी तेजी से आगे बढ़ रहा हैं , और इसके साथ ही इस क्षेत्र में तेजी से करियर बदलने लगा हैं!

मास कम्युनिकेशन है कया पहले हम इसके बारे में जानते हैं। –

मास कम्युनिकेशन (mass communication) को हिंदी में जनसंचार कहते है। जनसंचार शब्द से ‘संस्कृति, बुद्धि तथा विवेक के भाव बोध होते हैं। जिसका अभिप्रायः समुदाय से हैं। इसकी प्रकृति विषम होती हैं। इसका क्षेत्र, समूह, भीड़, तथा समुदाय से बडा होता हैं। जन का अर्थ हैं ”जनता” यानि ”मास” (Mass) तथा संचार शब्द संस्कृत भाषा के ‘चर’ धातु से बना हैं।जिसका अर्थ हैं ‘चलना’। संचार का शाब्दिक अर्थ हैं ”साझेदारी में चलना”। ‘संचार तथा माध्यम’ ‘जन’ से जुड़कर ”जनसंचार” (Mass Communication) और ‘जन-माध्यम’ (Mass-Media) शब्द बने हैं। ‘मास कम्युनिकेशन’ और ‘मास मीडिया’ दोनों के रूप में प्रचलित ”जनसचार ” और ”जनमाध्यम” हैं।

पत्रकारिता कोर्स –
मास कम्युनिकेशन (mass communication) कोर्स में भी आप बैचलर डिग्री ले सकते हैं। मास कम्युनिकेशन में करियर बनाने के लिए 12वीं पास होना जरूरी है। 12वीं के बाद आप चाहें तो डिप्लोमा सर्टिफिकेट या डिग्री कोर्स कर सकते हैं। ग्रेजुएशन के बाद पीजी डिप्लोमा इन मास कम्यूनिकेशन, डिप्लोमा इन पब्लिक रिलेशन कर सकते हैं।

पत्रकारिता के प्रमुख कोर्सेज: –

MJMC ( Master of Journalism and Mass Communication)
BJMC (Bachelor of Journalism and Mass Communication)
PGDJMC (Post Graduate Diploma in Journalism and Mass Communication)
Diploma in Journalism
PG Diploma in Broadcast Journalism
PG Diploma in Mass Media
MA (Journalism and Mass Communication) Degree

शैक्षिक योग्यता

एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया –

मास कम्युनिकेशन में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को 12वीं पास होना जारूरी है. बता दें कि पत्रकारिता और मास कम्यूनिकेशन मेें एडमिशन पाने के लिए स्टूडेंट्स को 12वीं किसी खास साइड (साइंस, आर्टस या कॉमर्स) पास करना भी अनिवार्य नहीं है.

क्यों करें मास कम्युनिकेशन कोर्स

किसी भी कोर्स को करने से पहले हर स्टू़डेंट्स के मन में एक सवाल आम तौर पर जन्म लेता है. वे ये कि उसे ये कोर्स क्यों करना चाहिए. बता दें कि सूचना और तकनीक के इस दौर में जॉब ओरिएंटेड कोर्स करना फायदेमंद है. मास कम्युनिकेशन उन्हीं कोर्सों में से एक है. स्टूडेंट्स इस कोर्स को करने के बाद मीडिया और सिनेमा के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं.

देश के अलग-अलग सरकारी और गैर-सरकारी कॉलेज और यूनिवर्सिटी में मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई होती है. इस कोर्स को करने वाले स्टूडेंट्स एंकर, रिपोर्टर, स्क्रिप्ट राइटर, कैमरा पर्सन, एक्टर, डायरेक्टर, वीडियो एडिटर और न्यूज एडिटर के पद पर काम कर सकते हैं.

ये हैं देश में पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन के दस टाप कॉलेज

देश में मौजूद पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन के जाने मानें संस्थान की लिस्ट में दस बेहतरीन इंस्टीट्यूट के नाम आपके सामने हैं।

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन (आईआईएमसी)
  • अनवर जमाल किदवाई मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर, नई दिल्ली
  • फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे
  • माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय –भोपाल
  • डिपार्टमेंटन ऑफ जर्नलिजम एंड मास कम्युनिकेशन, बीएचयू
  • डिपार्टमेंट ऑफ कम्युनिकेशन, हैदराबाद यूनिवर्सिटी
  • जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेशन (एक्सआईसी)
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मीडिया एंड कम्युनिकेशन , पुणे
  • मुद्रा इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, (एमआईसीए)
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जर्नलिजम एंड न्यू मीडिया, बैंगलोर

ये पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन के दस टाप कॉलेज है।

जाब प्रोफाइल :-मास कम्युनिकेशन कोर्स

  1. प्रिंट पत्रकारिता – यह पत्रकारिता का सबसे पहला और पुराना फिल्ड हैं जो भारत में अभी भी सबसे लोकप्रिय पत्रकारिता हैं। भारत देश के हर भाषा में अख़बार और मैग्जीन छपता हैं। प्रिंट पत्रकारिता में काम कर सकते हैं !
  2. इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता – इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता ने दुनिया को अक्षरों की दुनिया से निकालकर विजुअल (दृश्य) की दुनिया में ले कर आया। ऑडियो, वीडियो, टीवी, रेडियो के माध्यम से यह दूर-दराज के क्षेत्र में भी लोकप्रिय होने लगा। अभी के समय में टेलीविजन पत्रकारिता का यह सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म बन चुका है!
  3. वेब पत्रकारिता – यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म हैं जहाँ पर हर पल की खबर को लिख कर या वीडियो बना कर वेबसाइट पर डाल दिया जाता हैं। प्रिंट मिडिया में यानि अख़बार, मैग्जीन में छपे हुए खबर को पाठक पढ़ कर अपनी फीडबैक नहीं दे सकता हैं। वही चीज इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता में श्रोता प्रवक्ता को सिर्फ सुन सकता हैं फीडबैक को प्रवक्ता के पास उसी समय नही पहुचा सकता हैं या कोई भी सवाल नहीं कर सकता हैं। लेकिन वेब पत्रकारिता में आप उसी समय अपना फीडबैक और सवाल कर सकते हैं। अभी के समय में वेब पत्रकारिता सबसे आगे हैं!
  4. पब्लिक रिलेशन – यह क्षेत्र पत्रकारिता से थोड़ा हटकर है, जर्नलिज्म की पढ़ाई के दैरान पब्लिक रिलेशन को भी पढ़ाया जाता हैं। किसी व्यक्ति, संस्थान की छवि को लोगों की नजर में सकारात्मक रुप से प्रस्तुत करना पब्लिक रिलेशन में आता है। पब्लिक रिलेशन का कोर्स करने के बाद बिजनेस हाउसेज, पॉलिटिकल पर्सन, सेलेब्रेटी और संस्थानों के लिए काम किया जाता है!
  5. विज्ञापन – पत्रकारिता में ही विज्ञापन को पढाया जाता हैं। पेपर, मैग्जीन, पोस्टर, पैम्पलेट, पर विज्ञापन किया जाता हैं। इस फिल्ड में भी करियर बना सकते हैं।जर्नलिस्ट में कुछ जरुरी गुण होने चाहिए !

महत्वपूर्ण बातें –

मानसिक रूप से मजबूत होना यानी किसी भी परिस्थिति में खुद पर विश्वास करके काम पर ध्यान देना।
बेहतरीन कम्युनिकेशन स्किल्स होना।
समाचारों से खुद को अपडेट रखना जर्नलिज्म का सबसे बड़ा नियम है।
खबरों को लेकर निष्पक्ष होना।
समय बद्ध होना।
नौकरी के अवसर: –

न्यूज एजेंसी, न्यूज वेबसाइट, प्रोडक्शन हाउस, प्राइवेट और सरकारी न्यूज चैनल, प्रसार भारती, पब्लिकेशन डिजाइन, फिल्म मेकिंग में रोजगार के अवसर मिलते हैं।

Career & Jobs :- मास कम्युनिकेशन कोर्स

BBC
Star Network
CNN IBN
Viacom
NDTV
UTV
TV Today
Zee Network
The major job profiles in this sector include:

TV Anchor
News Editor
Senior Journalist
Junior journalist
Screen Writer
Editor at large

Salary :- सैलरी


news reporter, the salary in this period could be Rs. 10,000 to Rs. 20,000. After some experience, you could be working as an editor or an anchor, the salary in this profile could be around Rs. 25,000 to Rs. 40,000 per month.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *